साइखोम मीराबाई चानू का जीवन परिचय | Mirabai Chanu biography in hindi

साईखोम मीराबाई चानू जीवन परिचय, Tokyo ओलिंपिक में भारत को रजत पदक, कॉमन वैल्‍थ स्‍वर्ण पदक विजेता, (Saikhom Mirabai Chanu Biography Hindi) [Won Medal in Tokyo Olympic, 49 kg Category] (Weighlifting State, Coach, religion, net worth, family)

साइखोम मीराबाई चानू एक भारतीय वेट लिफ्टिंग खिलाड़ी हैं जिन्‍होंने साल 2021 में आयोजित हो रहे टोक्‍यो ओलंपिक में अपने शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत के लिए रजत पदक जीता।

मीरा बाई चानू के वेट लिफ्टिंग खिलाड़ी बनने की शुरूआत एक किताब में पूर्व भारतीय महिला वेटलिफ्टर कुंजरानी की कहानी पढ़कर हुई थी.

साइखोम मीराबाई चानू का जीवन परिचय | Mirabai Chanu biography in hindi

मीराबाई चानू का जीवन परिचय

नाम (Name)मीराबाई चानू
पूरा नाम (full Name)साइखोम मीराबाई चानू
जन्‍म (Birth)8 अगस्‍त 1994
उम्र (Age)24 साल
जन्‍म स्‍थान (Birth Place)मणिपुर
राष्‍ट्रीयता (Nationality)भारतीय
धर्म (Religion)हिंदू
पेशा (Profession)वेट लिफ्टिंग खिलाड़ी
वर्ग (Event)48 किलोग्राम
लम्‍बाई (height)4 फिट 11 इंच
वजन (Weight)48 किलोग्राम
बालों का रंग (Hair Colour)काला
आंखो का रंग (Eye Colour)काला
गोल्‍ड मैडल (Gold Medal)2
सिल्‍वर मैडल (Silver Medal)1
कोच (Coach)विजय शर्मा

साइखोम मीराबाई चानू रजत पदक (Mirabai Chanu weightlifting silver in Olympics)

भारतीय भारोत्‍तालक (वेट लिफ्टिंग) मीराबाई चानू ने साल 2021 में टोक्‍यो ओलांपिक में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 49 किलोग्राम केटेगरी में भारत को रजत पदक दिलाया हैं.

साल 2021 के टोक्‍यों ओलिंपिक में भारत के लिए पहला पदक था जो भारोत्‍तोलक (Weighlifting) मीराबाई चानू ने जीता हैं.

साइखोम मीराबाई चानू का जन्‍म (Mirabai Chanu Age)

मीराबाई चानू का जन्‍म मणिपुर के इम्‍फाल में हुआ. यह मणिपुर के पूर्व में स्थित हैं; इनकी जन्‍म तारीख 8 अगस्‍त 1994 हैं. इस हिसाब से इनकी अब तक उम्र मात्र 23 साल हैं. इनकी शिक्षा भी यही से शुरू हुई.

मीराबाई चानू परिवार (Mirabai Chanu Family)

 मीराबाई चानू एक मध्‍यम परिवार से ताल्‍लुक रखती हैं इनकी माता जी एक ग्रहणी होने के साथ-साथ एक दुकानदार हैं जिनका नाम साइकोहं ऊँगबी तोम्‍बी लीमा हैं। इनके पिता पीडब्‍ल्‍यूडी डिपार्टमेंट में काम करते हैं जिनका नाम साइकोहं कृति मैतेई हैं। मीराबाई चानू बचपन से ही काफी एक्टिव रही हैं और वेट लिफ्टिंग की तरफ आकर्षित रही हैं बचपन से ही वह भारी वस्‍तु को उठाकर वेटलिफ्टिंग की प्रेक्टिस किया करती थी।

नाम (Name)मीराबाई चानू
माता का नाम (Mother’s Name)साइखोम ओंगबी टोंबी लेइमा
पिता का नाम (Father’s Name)साइखोम कृति
भाई का नाम (Brother’s Name)साइखोम सनातोंबा
बहन का नाम (Sister’s Name)साइखोम रंगिता, साइखोम शाया

साइखोम मीराबाई चानू कोच (Mirabai Chanu Coach)

वेट लिफ्टिंग में मीरा की कोच कुंजरानी देवी हैं जो खुद भी वेट लिफ्टिंग में एक भारतीय खिलाड़ी हैं. कुंजरानी भी इम्‍फाल मणिपुर की ही रहने वाली हैं.

मीराबाई चानू का भारोत्‍तोलक करियर (Mirabai Chanu Weightlifting Career)

साल 2014 से साल 2016

मीराबाई चानू साल 2014 से लगातार 48 किग्रा भार वर्ग में भारोत्‍तोलक खेलों में हिस्‍सा लेती आ रही हैं। हालॉंकि इसी साल 2014 में लोगों की नजरों में वे तब आयी जब उन्‍होंने राष्‍ट्रमंडल खेलो (Commonwealth Games) के पहले दिन ही अपने बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत 48 किग्रा. भार वर्ग में सिल्‍वर मेडल जीता।

साल 2014 के राष्‍ट्रमंडल खेलों में भारत ने पंद्रह स्‍वर्ण पदक तीस रजत पदक और उन्‍नीस कांस्‍य पदक जीते थे.

साल 2016 में इन्‍होंने रियो ओलंपिक में भाग लिया और महिला 48 किग्रा वर्ग में अपनी जगह बनाने के बाद भी कोई पदक जीतने में नाकाम रही।

साल 2017 से साल 2019

मीराबाई चानू ने साल 2017 में आयोजित हो रहे विश्‍व वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में स्‍वर्ण पदक (Gold Medal) जीता।

साल 2018 में ऑस्‍ट्रेलिया में आयोजित राष्‍ट्रमंडल खेल में इन्‍होने हिस्‍सा लेकर इन्‍होंने महिलाओं की 48 किलोग्राम वर्ग में स्‍वर्ण पदक अपने नाम किया।

साल 2019 में विश्‍व भारोत्‍तोलन चैंपियनशिप में हिस्‍सा लेकर अपने जबरदस्‍त प्रदर्शन की बदौलत नए रिर्कॉ स्‍थापित किये।

साल 2020 से अब तक

इन्‍होंने साल 2020 में सीनियर नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में भाग लिया जो साल 2019 में हुए विश्‍व भारोत्‍तोलन चैंपियनशिप के मात्र चार महीने के बाद आयोजित किया गया था।

इन्‍होंने सीनियर नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में अपने जबरदस्‍त प्रदर्शन की बदौलत अपने पुराने रिकॉर्ड तोड़कर नए रिकॉर्ड स्‍थापित किये और स्‍वर्ण पदक अपने नाम किया और अपनी काबिलियत साबित की।

साल 2021 में उज्‍बेकिस्‍तान आयोजित एशियाई भारोत्‍तोलन चैंपियनशिप में भाग लिया जो पिछले साल 2020 में आयोजित होनी थी लेकिन कोरोना की वजह से साल 2021 में आयोजित की गयी। एशियाई भारोत्‍तोलन चैंपियनशिप में इन्‍होंने स्‍वर्ण पदक भारत की झोली में डाला और अपने देश का नाम ऊँचा किया।

साल 2021 में इन्‍होंने जापान के टोक्‍यों शहर में आयोजित की जा रही ग्रीष्‍मकालीन ओलंपिक खेलों में 49 किग्र वर्ग में कुल 202 किग्रा (87 किग्रा + 115 किग्रा) भार उठाते हुए भारत की तरह से खेलते हुए, वेटलिफ्टिंग खेल में रजत पदक जीतकर भारत की झोली में पहला पदक डाला।

साइखोम मीराबाई चानू वर्ल्‍ड रिकार्ड्स (Mirabai Chanu World Records)

मीराबाई ने मात्र 24 वर्ष की उम्र में कई रिकॉर्ड अपने नाम किये हैं जिसकी जानकारी नीचे दी गई हैं.

  • मीराबाई एक महिला वेट लिफ्टर हैं, जिन्‍होंने साल 2017 में हुई वर्ल्‍ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में 48 किलोग्राम वर्ग में गोल्‍ड मैडल हासिल किया था. इसके पहले साल 2014 में भी इन्‍होंने ग्‍लासगो में संपन्‍न हुए कॉमन वेल्‍थ गेम्‍स में भी 48 किलोग्राम वर्ग में सिल्‍वर मैडल जीता था.
  • इस वर्ष 2018 में भी इन्‍होंने कॉमन वेल्‍थ गेम्‍स में गोल्‍ड हासिल कर इंडिया को पहला गोल्‍ड दिलवाया. यह गोल्‍ड भी महिलाओं की 48 किलोग्राम वेट लिफ्टिंग में है।
  • मीराबाई का चयन 2016 में संपन्‍न रिओ ओलिंपिक में भी हुआ था, परंतु दुर्भाग्‍यवश वे इस दौरान इंडिया के लिए कोई मैडल नहीं ला पाई थी.
  • इन्‍होंने साल 2016 में गुवाहाटी में संपन्‍न हुए बारहवे साउथ एशियन गेम्‍स में भी गोल्‍ड मैडल हासिल किया था।

मीराबाई चानू का सम्‍मान ( Mirabai Chanu Honors)

  • साल 2018 में मीराबाई चानू को भारत सरकार ने खेल के सबसे बड़े अवार्ड ‘राजीव गॉंधी खेल रत्‍न’ से सम्‍मानित किया गया।
  • इसी साल भारत सरकार द्धारा देश के चौथे बड़े सम्‍मान पद्म श्री से मीराबाई चानू को सम्‍मानित किया गया।

मीराबाई चानू के पुरस्‍कार (Mirabai Chanu Reward)

सालप्रतियोगिताओं का नामकेंद्र/राज्‍य सरकार का नामप्राप्‍त धनराशि
2017विश्‍व भारोत्‍तोलन चैंपियनशिपमणिपुर सरकार की ओर20 लाख रूपये
2021टोक्‍यो ग्रीष्‍मकालीन ओलंपिकओलंपिक में भाग लेने के लिए, मणिपुर सरकार की ओर25 लाख रूपये
2021टोक्‍यो ग्रीष्‍मकालीन ओलंपिकओलंपिक के लिए कालीफाई करने के लि मणिपुर सरकार की ओर10 लाख रूपये
2021टोक्‍यो ग्रीष्‍मकालीन ओलंपिकओलंपिक में रजत पदक जीतने के लिए मणिपुर सरकार की ओर1 करोड़ रूपये
2021टोक्‍यों ग्रीष्‍मकालीन ओलंपिकओलंपिक में रजत पदक जीतने के लिए भारत सरकार की ओर50 लाख रूपये

कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स 2022 में जीता स्‍वर्ण पदक (Gold Medal in 2022 Commonwealth Games)

Mirabai Chanu Win Gold in CWG 2022: देश की दिग्‍गज वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने 2022 राष्‍ट्रमंडल खेलों में देश को दिलाया पहला गोल्‍ड. इससे पहले उन्‍होंने टोक्‍यो ओलंपिक 2020 में देश को सिल्‍वर मेडल जिताया था. बीते शनिवार को चानू ने महिला वेटलिफ्टिंग 49 किलो भार वर्ग में कमाल कर दिया. स्‍नेच और क्‍लीन एं जर्क राउंड के अंत में वेटलिफ्टिंग के लिए आई मीराबाई चानू ने बेहद आसानी से बिना किसी टक्‍क्‍र के गोल्‍ड पर कब्‍जा किया.

दोनों राउंड में मिलाकर मीराबाई ने कुल 201 किलो भार उठाया. सिल्‍वर मेडल प्राप्‍त करने वाली उनकी निकटतम प्रतिद्धंदी ने 172 किलोग्राम वजन उठाया था. यह समझा जा सकता हैं कि वो दूसरे स्‍थान की खिलाड़ी से कोसो आगे थी. 29 किलोग्राम से आगे रहते हुए उन्‍होंने गोल्‍ड मेडल पर कब्‍जा किया.

मीराबाई चानू सोशल मीडिया (Mirabai Chanu Social Media)

Mirabai Chanu twitterClick Here
Mirabai Chanu facebookClick Here
Mirabai Chanu InstagramClick Here

FAQ:

प्रश्‍न:- मीराबाई चानू कोन हैं?

मीराबाई चानू एक वेटलिफ्टिंग खिलाड़ी हैं।

प्रश्‍न:- मीराबाई चानू की कोच कौन हैं?

कुंजारानी देवी

प्रश्‍न:- Mira Chanu Kahan ki hai

Manipur

प्रश्‍न:- मीराबाई चानू ने टोक्‍यों ओलंपिक में कौन सा पदक जीता?

रजत पदक (Silver Medal)

अन्‍य पढ़े:-

निष्कर्ष

मैं आशा करता हूं की आपको “ साइखोम मीराबाई चानू का जीवन परिचय | Mirabai Chanu biography in hindi)” पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो कमेंट करके अपनी राय दे, और इसे अपने दोस्तो और सोशल मीडिया में भी शेयर करे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment