धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री का जीवन परिचय | Dhirendra Krishna Shastri Biography in Hindi

धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री का जीवन परिचय, जीवनी, बागेश्‍वर धाम, भागवत कथा, उम्र, विवाद, परिवार, धर्म, शादी किससे हुई (Dhirendra Krishna Shastri Biography in hindi, Bageshwar Dham, Kahan hai, Maharaj, Date of Birth, Age, Latest News, Wife, Net worth, Caste, Religion)

धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री उर्फ बागेश्‍वर महाराज एक भारतीय सनातन धर्म प्रचारक, कथावाचक एवं यूटयूबर हैं। आजकल बागेश्‍वर महाराज चर्चा का विषय बने हुए हैं. सोशल मीडिया पर गुरूवार 19 जनवरी 2022 को ट्रेंड करने वाले नवीनतम गॉडमैन बागेश्‍वर धाम के मंदिर प्रमुख धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री थे।

देशभर के इसी चहीते महाराज के जीवन के बारे में आज हम आपको बताएगें कि कैसे बने महाराज धीरेन्‍द्र कृष्‍ण शास्‍त्री चमत्‍कारी बाबा।

धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री का जीवन परिचय | Dhirendra Krishna Shastri Biography in Hindi

Table of Contents

धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री का जीवन परिचय

पूरा नाम (Full Name)श्री धीरेंद्र कृष्‍ण जी
उपनाम (Nick Name)बागेश्‍वर धाम महाराज
प्रसिद्ध नाम (Famous For)बालाजी महाराज, बागेश्‍वर महाराज एवं धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री
जन्‍म तारीख (Date of Birth)4 जुलाई 1996
जन्‍म स्‍थान (Birth Place)गड़ा, छतरपुर, मध्‍यप्रदेश
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)अविवाहित
प्रमुख मित्र (Best Friend)शेख मुबारक एवं राजाराम
शैक्षिक योग्‍यता (Education Qualification)कला वर्ग में स्‍नातक (बी.ए)
बोलचाल की भाषा (Language)बुंदेली, संस्‍कृत, हिंदी एवं अंग्रेजी
व्‍यवसाय (Profession)सनातन धर्म प्रचारक, कथावाचक, दिव्‍य दरबार, प्रमुख बागेश्‍वर धाम, यूटयूबर
गुरू (Teacher)श्री दादा जी महाराज सन्‍यासी बाबा
लंबाई (Height)5 फीट 9 इंच
वजन (Weight)64 किलो (लगभग)
ऑंखो का रंग (Eye Colour)काला
बालों का रंग (Hair Colour)काला
बागेश्‍वर धाम (Bageshwar Dham)गड़ा गंज, छतरपुर, मध्‍यप्रदेश
मंदिर (Devotee of)   श्री बालाजी हनुमान को समर्पित
इनकम (Income)रू. 8000 प्रतिदिन रू. 3.5 लाख प्रतिमाह रू. 40 लाख प्रतिवर्ष
नेटवर्थ (Net Worth)रू. 19.5 करोड़

महाराज धीरेन्‍द्र शास्‍त्री का जन्‍म एवं शुरूआती जीवन (Dhirendra Shastri Birth & Early Life)

महाराज धीरेन्‍द्र कृष्‍ण का जन्‍म 4 जुलाई 1996 को मध्‍यप्रदेश के छतरपुर जिले के गड़ा पंज गांव में एक ब्राह्मण घर में हुआ। उनके पिता राम कृपाल गर्ग और मां सरोज गर्ग हैं। उनके घर में दादाजी उनकी एक बहन और एक छोटा भाई भी हैं। महाराज धीरेंद्र कृष्‍ण ने अपना शुरूआती जीवन गांव में बिताया।

आपको बता दें कि, उनका परिवार काफी गरीब था। जिसके कारण उन्‍हें सुख-सुविधाओं से वचिंत रहना पड़ा। महाराज धीरेंद्र कृष्‍ण को बचपन से आध्‍यात्मिक चीजें का काफी शौक रहा हैं। जिसकी शिक्षा उन्‍होंने अपने दादाजी से प्राप्‍त की हैं।

महाराज धीरेन्‍द्र शास्‍त्री की शिक्षा (Dhirendra Shastri Education)

महाराज धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री ने अपनी शुरूआती पढ़ाई हिंदी माध्‍यम से कक्षा 8 तक पूरी की। उच्‍च अध्‍ययन के लिए गॉंव में स्‍कूल नहीं होने के कारण उन्‍होंने कक्षा 9 से 12 तक की उच्‍च शिक्षा गंज में पूरी की। उसके बाद उन्‍होंने किसी कॉलेज में दाखिला लिया और वहॉं से बीए की डिग्री हासिल की और इसके बाद धीरेंद्र कृष्‍ण समाजसेवा और मानव सेवा में लग गए और पढ़ाई छोड़ दी।

महाराज धीरेन्‍द्र शास्‍त्री का परिवार (Dhirendra Shastri Family)

पिता का नाम (Father’s Name)राम कृपाल गर्ग
माता का नाम (Mother’s Name)सरोज गर्ग
भाई का नाम (Brother’s Name)शालिग्राम गर्ग जी महाराज (छोटा भाई)
बहन का नाम (Sister’s Name)एक बहन, नाम ज्ञात नहीं
दादाजी का नाम (Grandfather Name)भगवान दास गर्ग

महाराज धीरेन्‍द्र कृष्‍ण शास्‍त्री के गुरू 

पंडित कृष्‍ण शास्‍त्री का जन्‍म शुक्‍ल वंश के एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनके दादा एक बहुत बड़े संत थे, महाराजा धीरेंद्र को बचपन से ही गुरू की कृपा प्राप्‍त हो गई थी। साथ ही उनके दादा बागेश्‍वर धाम में रहते थे।

उनके दादा भगवानदास गर्ग एक सिद्ध संत थे। हनुमान मंदिर के पास निर्मोही अखाड़ें में दरबार लगता था। जो उनके दादा से जुड़ा था। बाद में, धीरेंन्‍द्र कृष्‍ण शास्‍त्री ने दिव्‍य दरबार लगाना शुरू किया जिसने बहुत लोकप्रियता हासिल की।

उनके दादा जी के गुरू सन्‍यासी बाबा भी उनके परिवार से ताल्‍लुक रखते थे जिन्‍होंने 320 साल पहले समाधि ले ली थी। सन्‍यासी बाबा धीरेंद्र महाराज के भी आध्‍यात्मिक गुरू हैं।

बागेश्‍वर महाराज ने स्‍वीकार किया कि उन्‍हें जो भी ज्ञान और अलौकिक शक्ति प्राप्‍त हुई हैं। वह सब दादा और सन्‍यासी बाबा की कृपा का फल हैं। 2010 में उनके दादा ने काशी में देह त्‍याग दी थी।

👉 यह जरूर पढ़ें – शिवरंजनी तिवारी का जीवन परिचय

धीरेंद्र शास्‍त्री ने राजनेताओं पर जातिवाद फैलाने का लगाया आरोप

पंडित धीरेंद्र शास्‍त्री अपने प्रवचन के दौरान कई बार कटाक्ष बातें भी समाज में फैली कुप्रथा को लेकर किए हैं। ऐसा ही एक बार अपने प्रवचन के दौरान राजनेताओं पर जातिवाद फैलाने का आरोप लगाया था। जिसमें उन्‍होंने कहा था कि भारत में प्राचीन काल से ही कई जातियां हैं लेकिन उस समय जातिवाद नहीं था।

भगवान श्री कृष्‍ण जी यादव जात के थे भगवान श्री राम जी क्षत्रिय थे लेकिन दोनों की ही समान रूप से पूजा होती हैं। यहां तक कि वाल्‍मीकि, रैदास जो निम्‍न कुल के थे। उनकी भी पूजा होती हैं। आज सिर्फ जातिवाद हैं और यह जातिवाद राजनेताओं ने फैलाया हैं।

धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री का जीवन परिचय | Dhirendra Krishna Shastri Biography in Hindi

इसके साथ ही पंडित जी ने यह भी कहा कि राजनीति से धर्म नहीं चलता, धर्म से राजनीति चलती हैं। जो राम का नहीं वो किसी काम का नहीं। इसलिए सभी संतों को एकजुट होने की जरूरत हैं। अगर ऐसा नहीं किए तो धीरे-धीरे यह सनातन धर्म खत्‍म हो जाएगा।

धीरेन्‍द्र कृष्‍ण शास्‍त्री की वृंदावन यात्रा

  • आपको बता दें कि धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री के जीवन में बहुत ही कठिनाई भरी पड़ी थी एक समय था जब वे वृंदावन जाना चाहते थे और वहां पर कर्मकांड धर्म ग्रंथ देखना चाहते थे।
  • बताया जाता हैं कि उनके पिताजी बचपन में बहुत गरीब हुआ करते थे उनके पिता जी के पास इतने पैसे तक नहीं की कि वे अपने बेटे को वृंदावन भेज सें। काहं जाता हैं कि उनके पिताजी के पास उस समय रू. 1000 तक नहीं थे जिस कारण से वे वृंदावन नहीं जा पाए।
  • कहा जाता हैं कि धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री जी के पिताजी उस समय पूरे गांव में पैसे कई लोगों से उधार लिए बैठे थे ऐसे में उनके बारे में लोग यह सोचते थे कि यह बहुत गरीब हैं पैसे दे नहीं पाएगा जिस कारण से उनको उधार पैसे भी नहीं मिले थे।

महाराज धीरेन्‍द्र कृष्‍ण की कुल संपत्ति (Dhirendra Shastri Net Worth)

महाराज धीरेन्‍द्र कृष्‍ण वैसे तो काफी गरीब परिवार से ताल्‍लुक रखते हैं। लेकिन आजकल काफी पैसे कमा रहे हैं। आपको बता दें कि, उनके प्रतिदिन की कमाई 8 हजार रूपये हैं। वहीं प्रतिमाह वो 3.5 लाख रूपये कमा लेते हैं। जिसके कारण उनका नेटवर्थ करीबन 19.5 करोड़ के आसपास पहुँच गया हैं।

बागेश्‍वर धाम पीठाधीश्‍वर धीरेन्‍द्र शास्‍त्री के बारे में कुछ रोचक जानकारियॉं

  • बागेश्‍वर धाम श्री धीरेन्‍द्र शास्‍त्री जी को लोग ज्‍यादातर बागेश्‍वर बालाजी महाराज जी के नाम से लोग जानते हैं।
  • धीरेन्‍द्र शास्‍त्री किसी भी इंसान के बारे मे बिना जाने उनके बारे में सब कुछ बता सकते हैं।
  • लोगों द्धारा धीरेन्‍द्र शास्‍त्री को चमत्‍कारी बाबा भी माना जाता हैं।
  • धीरेन्‍द्र शास्‍त्री ने अभी तक अपनी शादी नहीं की हैं और वे 2022 के अनुसार 26 वर्ष के हो चुके है।
  • धीरेन्‍द्र शास्‍त्री बागेश्‍वर धाम सरकार में एक पूजारी व महाराज के रूप में भगवतकथा, रामकथा, प्रवचन आदि सब सुनाते हैं जिसे सुनने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं।
  • बागेश्‍वर धाम में मंगलवार के दिन लगायी गयी अर्जी कभी भी असफल नहीं होती हैं. ये लोगों का मानना हैं।
  • धीरेन्‍द्र शास्‍त्री के ऊपर स्‍वयं बालाजी महाराज श्री हनुमान जी का हाथ हैं और धीरेन्‍द्र शास्‍त्री उनके बहुत बड़े भक्‍त हैं।
  • धीरेन्‍द्र शास्‍त्री भारत के पहले इतने युवा सन्‍यासी बाबा हैं जो अपने चमत्‍कार से लोगों की परेशानियॉं दूर कर देते हैं।

FAQ:

धीरेन्‍द्र शास्‍त्री के गुरू कौन हैं?

श्री दादा जी महाराज सन्‍यासी बाबा

धीरे धीरे महाराज की आयु कितनी हैं?

26 साल (2023 में)

दिव्‍य दरबार बागेश्‍वर धाम कहॉं पर हैं?

बागेश्‍वर धाम मध्‍यप्रदेश के जिले छतरपुर में स्थित हैं।

धीरेन्‍द्र कृष्‍ण महाराज पत्‍नी कौन हैं?

अभी शादी नहीं हुई

इन्‍हें भी पढ़ें

निष्‍कर्ष

मैं आशा करता हूं की आपको “धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री का जीवन परिचय | Dhirendra Krishna Shastri Biography in Hindi” पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो कमेंट करके अपनी राय दे, और इसे अपने दोस्तो और सोशल मीडिया में भी शेयर करे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment