मुलायम सिंह यादव का जीवन परिचय, निधन | Mulayam Singh Yadav Biography in Hindi

मुलायम सिंह यादव का जीवन परिचय, कहानी, निधन, समाजवादी पार्टी, आयु, पत्नी, राजनीतिक कैरियर, कुल संपत्ति, नेटवर्थ (Mulayam Singh Yadav biography in Hindi, death, political career, health news, networth, religion, cast, age, birthday)

मुलायम सिंह यादव एक प्रमुख भारतीय राजनेता थे वह समाजवादी पार्टी के संस्थापक और अध्यक्ष थे। वह पूर्व केंद्रीय मंत्री हैं और उन्होंने तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में भी कार्य किया है।

10 अक्टूबर 2022 को 84 साल की उम्र में समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने इस दुनिया को हमेशा हमेशा के लिए अलविदा कह दिया।

मुलायम सिंह यादव का जीवन परिचय, निधन | Mulayam Singh Yadav Biography in Hindi

Table of Contents

मुलायम सिंह यादव का जीवन परिचय, निधन

नाम (Full Name)मुलायम सिंह यादव
उपनाम (Nick Name)नेता जी
जन्मदिन (Date of Birth)1 मार्च 1951
जन्म स्थान (Place of Birth)सैफई, इटावा जिला, उत्तर प्रदेश
उम्र (Age)83 साल (निधन के समय)
मृत्यु का दिन (Date of Death)10 अक्टूबर 2022
मृत्यु का कारण (Death Reason)शरीर की तमाम बीमारियां
शिक्षा (Education)M.A. (राजनीति विज्ञान)
कॉलेज का नाम (College Name)केके कॉलेज, इटावा उत्तर प्रदेश
एके कॉलेज, शिकोहाबाद उत्तर प्रदेश
बीआर कॉलेज, आगरा विश्वविद्यालय
राशि (Zodiac Sign)वृश्चिक राशि
नागरिकता (Nationality)भारतीय
गृह नगर (Home town)इटावा, उत्तर प्रदेश
धर्म (Religion)हिंदू
जाति (Caste)अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC)
लंबाई (Height)5 फीट 3 इंच
वजन (Weight)74 किलो
आंखो का रंग (Eye’s Colour)भूरा
बालो का रंग (Hair Colour)सफेद
पेशा (Profession)राजनेता
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)विदुर
सैलरी (लोकसभा सदस्य के रूप में) (Salary)₹1 लाख रुपए + अन्य भत्ते
कुल संपत्ति (Net Worth)20.56 करोड़ रुपए (2019 में)

कौन थे मुलायम सिंह यादव (Who was Mulayam Singh Yadav)

मुलायम सिंह यादव एक भारतीय राजनीतिज्ञ और समाजवादी पार्टी के फाउंडर हैं। लगातार तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में सेवाएं दी. और भारत सरकार में रक्षा मंत्री के रूप में भी कार्य किया।

काफी लंबे समय के सांसद और वर्तमान में संसद है लोकसभा में मैनपुरी के निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और इससे पहले आजमगढ़ और संभल निर्वाचन क्षेत्रों में से सांसद के रूप में भी काम कर चुके हैं। उन्हें अक्सर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा नेताजी के रूप में संदर्भित किया जाता है।

मुलायम सिंह यादव का जन्म (Mulayam Singh Yadav Birth)

मुलायम सिंह यादव का जन्म 22 नवंबर 1939 को उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के सैफई में एक गरीब किसान परिवार में हुआ था। वह अन्य पिछड़ा वर्ग ओबीसी जाति से ताल्लुक रखते थे।

उनके पिता का नाम सुघर सिंह और मां का नाम मूर्तिदेवी था उनकी एक बहन है कमला देवी यादव

उनके चार भाई हैं शिवपाल सिंह यादव, रतन सिंह यादव, अभय राम यादव और राजपाल सिंह यादव। उनके चचेरे भाई रामगोपाल यादव भी एक राजनेता हैं।

मुलायम सिंह यादव की शिक्षा (Mulayam Singh Yadav Education)

उन्होंने इटावा (यूपी) में केके कॉलेज इटावा, उत्तर प्रदेश एवं एके कॉलेज शिकोहाबाद, उत्तर प्रदेश एवं बीआर कॉलेज आगरा, विश्वविद्यालय आगरा, उत्तर प्रदेश से राजनीति विज्ञान में बीए और M.A. किया था।

कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने उत्तर प्रदेश के करहल में टीचर के रूप में काम करना शुरू किया।

मुलायम सिंह यादव का परिवार (Mulayam Singh Yadav Family)

पिता का नाम (Father’s Name)स्व. श्री सुघर सिंह यादव
माता का नाम (Mother’s Name)मूर्ति देवी
भाई का नाम (Brother’s Name)शिवपाल सिंह यादव, राजपाल सिंह यादव, अभय राम यादव, रतन सिंह यादव
बहन का नाम (Sister’s Name)कमला देवी यादव
पहली पत्नी का नाम (1st Wife’s Name)स्व. मालती देवी
दूसरी पत्नी का नाम (2nd Wife’s Name)स्व. साधना गुप्ता
बेटे का नाम (Son’s Name)अखिलेश यादव (पहली पत्नी से)
प्रतीक यादव (दूसरी पत्नी से)
बहु का नाम (Daughter-In-lawडिंपल यादव, अपर्णा यादव

मुलायम सिंह यादव का राजनीतिक कैरियर ( Mulayam Singh Yadav Political Career)

  • साल 1960 के दशक में राम मनोहर लोहिया और राजनारायण जैसे नेता समाजवादी आंदोलन के बड़े नेताओं में से एक थे और इन नेताओं के साथ मुलायम सिंह यादव भी जुड़े हुए थे।
  • पिताजी मुलायम को पहलवान बनाना चाहते थे लेकिन पहलवानी के साथ-साथ रैलियों और आंदोलन का हिस्सा हुआ करते थे।
  • साल 1967 में उत्तर प्रदेश की जसवंत नगर विधानसभा से टिकट मिला चुनाव लड़ने के लिए टिकट तो मिल गया लेकिन प्रचार प्रसार करने के लिए साइकिल के अलावा कुछ नहीं था। लेकिन गांव के लोगों ने साथ दिया और अपने राजनीतिक कैरियर की शुरूआत एक विधायक के रुप में की और यहां से 8 बार विधायक रहे।
  • साल 1975 में इंदिरा गांधी के द्वारा आपातकाल लागू करने के दौरान मुलायम को गिरफ्तार कर लिया गया था और 19 महीने जेल में रहे।
  • पहली बार साल 1977 में राज्य मंत्री बने राज्य मंत्री बनने के बाद साल 1980 में उत्तर प्रदेश में पीपुल्स पार्टी के प्रेसिडेंट बनाए गए।
  • साल 1982 में, वह उत्तर प्रदेश विधान परिषद में विपक्ष के नेता के रूप में चुने गए और साल 1985 तक इसी पद पर बने रहे।
  • साल 1987 में बोफोर्स घोटाले के दौरान बी पी सिंह के संपर्क में आए और संयुक्त मोर्चा की स्थापना की और बी पी सिंह के सहयोग से साल 1989 में पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली।
  • जब लोकदल पार्टी का विभाजन हुआ तो मुलायम यादव ने 4 अक्टूबर 1992 को समाजवादी पार्टी का गठन किया।
  • साल 1992 में उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव में बसपा नेता मायावती के समर्थन के साथ गठबंधन सरकार बनाई और मुलायम दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।
  • साल 2003 में भारतीय जनता पार्टी की सपोर्ट से मुलायम तीसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं।
  • मुलायम सिंह सेंट्रल में भी रक्षा मंत्री के पद पर भी रह चुके हैं और शुरुआत के दिनों में मुलायम सहकारी बैंक के डायरेक्टर भी रहे हैं।
  • साल 2009 में मैनपुरी निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा और जीत गए और इसी साल गन्नौर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से जीत दर्ज की।
  • साल 2014 में गृह मंत्रालय की स्थाई समिति और श्रम और सलाहकार समिति के मेंबर बनाए गए।
  • साल 2014 में 16वीं लोकसभा में आजमगढ़ से सांसद चुने गए और साल 2019 में 16वीं लोकसभा में आजमगढ़ से सांसद बने।

मुलायम सिंह यादव कैबिनेट मंत्री के रूप में

मुलायम सिंह यादव 1996 में मैनपुरी निर्वाचन क्षेत्र से 11 वीं लोकसभा के लिए चुने गए थे और उन्हें संयुक्त मोर्चा गठबंधन सरकार में केंद्रीय रक्षा मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था।

वर्तमान में लोकसभा में मैनपुरी निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और पहले आजमगढ़ और संभल निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं वह मई 2019 में चौथी बार मैनपुरी निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए थे।

मुलायम सिंह यादव का निधन (Mulayam Singh Yadav Death)

मुलायम सिंह यादव गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल के आईसीयू में एडमिट थे कुछ दिनों से उनकी हालत नाजुक थी। पल्स रेट और बीपी सामान्य नहीं था और 50% लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थे डॉक्टर्स की टीम 22 अगस्त से उनका इलाज कर रही थी।

यह भी पढ़ें:- मल्लिकार्जुन खड़गे का जीवन परिचय

10 अक्टूबर 2022 को 83 साल की उम्र में मुलायम सिंह यादव ने अंतिम सांस ली बताया जाता है कि 3 साल से बढ़ती उम्र की बीमारियों से पीड़ित थे कई बार हॉस्पिटल में भी एडमिट हुई थे। लेकिन दिन पर दिन उनकी हालत खराब होती जा रही थी और 10 अक्टूबर सोमवार के दिन सुबह 8:16 मिनट में उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

मुलायम सिंह यादव के विवाद (Mulayam Singh Yadav Controversy)

  • वर्ष 2012 में दिल्ली गैंगरेप की घटना के बाद मुलायम सिंह ने एक विवादास्पद बयान दिया। जिसमें उन्होंने कहा कि “लड़के हैं गलती हो जाती है।”
  • एक और बलात्कार मामले के दौरान मुलायम सिंह ने फिर से एक विवादास्पद बयान दिया। जिसमें संयुक्त राष्ट्र महासचिव “बान की मून” ने जवाब दिया- “हम खारिज करते हैं उनके बयानों को और ऐसे विध्वंसक रवेये के लिए हम लड़कों को ही जिम्मेदार मानते हैं।
  • वर्ष 2014 में उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर दंगों की आग अभी शांत भी नहीं हुई थी कि मुलायम सिंह ने एक सामूहिक कार्यक्रम का आयोजन किया जिसके कारण मुलायम सिंह को मीडिया में कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।
  • वर्ष 2015 में उत्तर प्रदेश स्टेट कुलपहर अदालत की न्यायिक मजिस्ट्रेट ने मुलायम सिंह के खिलाफ समन भेजते हुए बुलाया। मुलायम सिंह के द्वारा सामूहिक बलात्कारों को अव्यावहारिक बताया गया है।

मुलायम सिंह यादव की संपत्ति (Mulayam Singh Yadav Networth)

मुलायम सिंह यादव की कुल नेटवर्थ की बात करें तो साल 2019 में नामांकन दाखिल हलफनामे के अनुसार उनके पास 15 करोड़ की संपत्ति है। इसके अलावा बैंक में ₹5600000 और नगद ₹16 लाख 70 हजार रूपए हैं। गैर कृषि भूमि के नाम पर 10 करोड़ की जमीन है 8 किलो सोना एक करोड़ 22 लाख का फर्नीचर और शेयर है।

कुल संपत्ति (Networth)राशि (Money Factor)
लोकसभा सदस्य के रूप में वेतन (Salary)₹1 लाख रुपए प्रति माह एवं अन्य भत्ते
बैंक में जमा धन (Bank Deposit)40.13 लाख रुपए
कृषि भूमि (Agricultural Land)7.89 करोड़ रुपए
गैर कृषि भूमि (Non-Agricultural Land)1.44 करोड़ रुपए
आवासीय भवन (Residential Building)6.83 करोड़ रुपए
कुल संपत्ति (Net Worth)22 करोड़ रुपए (2019 की रिपोर्ट)

मुलायम सिंह यादव से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां

  • मुलायम सिंह यादव का जन्म उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में सैफई गांव में हुआ था।
  • राजनीति में आने से पहले उन्होंने एक शिक्षक के रूप में कार्य किया।
  • मुलायम सिंह एक प्रशिक्षित पहलवान भी हैं।
  • अपने शैक्षणिक सत्र के दौरान मुलायम सिंह ने कई डिग्रियां प्राप्त की हैं। जैसे कि बी. ए, बी. टी. और एम. ए. राजनीति विज्ञान में।
  • मुलायम सिंह यादव राजनीतिज्ञ डॉ. राम मनोहर लोहिया के समाजवादी विचारधारा और विचारों से काफी प्रभावित और प्रेरित रहे हैं।
  • अपने राजनीतिक जीवन में वह 9 बार जेल गए।
  • वह के.के. कॉलेज इटावा में छात्र संघ के नेता थे।
  • उन्होंने 4 अक्टूबर 1992 को समाजवादी पार्टी का गठन किया।
  • उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में तीन बार कार्य किया।
  • मुलायम सिंह यादव ने लगभग सभी चुनावों में जीत हासिल करके अपने राजनीतिक जीवन में रिकॉर्ड दर्ज किया है।

FAQ:

मुलायम सिंह यादव का जन्म कब और कहां हुआ था?

मुलायम सिंह यादव का जन्म 22 नवंबर 1939 को उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के सैफई में हुआ था।

मुलायम सिंह यादव का निधन कब हुआ?

मुलायम सिंह यादव का निधन 10 अक्टूबर 2022 को हुआ।

मुलायम सिंह यादव पहली बार मुख्यमंत्री कब बने?

मुलायम सिंह यादव पहली बार मुख्यमंत्री साल 1989 में बने थे।

मुलायम सिंह ने समाजवादी पार्टी का गठन कब किया?

मुलायम सिंह ने समाजवादी पार्टी का गठन 1992 में किया।

मुलायम सिंह यादव का गोत्र क्या है?

कमरिया अथवा कमरिया यादव जाति के गोत्र है।

मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी का नाम क्या है?

मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी का नाम मालती देवी (27 मई 2003 मे मृत्यु) था।

इन्हें भी पढ़ें

निष्‍कर्ष

मैं आशा करता हूं की आपको “मुलायम सिंह यादव का जीवन परिचय, निधन | Mulayam Singh Yadav Biography in Hindi” पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो कमेंट करके अपनी राय दे, और इसे अपने दोस्तो और सोशल मीडिया में भी शेयर करे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment