शरद यादव का जीवन परिचय, निधन | Sharad Yadav Biography in Hindi

शरद यादव सिंह का जीवन परिचय, निधन, उम्र, पति, बच्‍चे, परिवार, राशि, धर्म, विवाद, शिक्षा (Sharad Yadav Biography in Hindi, Death, Age, Height, Husband, Sharad Yadav Biography, Death in Hindi)

शरद यादव राष्‍ट्रीय जनता दल पार्टी के एक भारतीय राजनेता थे। वह जद (यू) से सात बार लोकसभा के लिए चुने गए और तीन बार राज्‍यसभा के लिए शरद साल 2003 में अपने गठन के बाद से साल 2016 तक जनता दल के पहले राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष थे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और जनता दल पार्टी के पूर्व अध्‍यक्ष शरद यादव का 12 जनवरी 2023 को 75 साल की उम्र में स्‍वर्गवास हो गया। शरद यादव की गिनती देश के सबसे ईमानदार नेताओं में होती थी।

शरद यादव ने बिहार की राजनीति में अपने दम पर अपना एक अलग मुकाम हासिल किया था।

शरद यादव का जीवन परिचय, निधन | Sharad Yadav Biography in Hindi
Sharad Yadav Biography in Hindi

शरद यादव का जीवन परिचय (Sharad Yadav Biography Hindi)

पूरा नाम (Full Name)शरद यादव
जन्‍म (Date of Birth)1 जुलाई 1947
आयु (Age)75 साल
जन्‍म स्‍थान (Birth Place)मध्‍यप्रदेश, होशंगाबाद, बंदाई गांव
मृत्‍यु की तारीख (Date of Death)12 जनवरी 2023
मृत्‍यु का स्‍थान (Death Place)गुरूग्राम, हरियाणा, भारत
स्‍कूल (School)ज्ञात नहीं
कॉलेज (College)जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज, रॉबर्टसन कॉलेज जबलपुर
शिक्षा (Education)सिविल इंजीनियरिंग
पेशा (Profession)राजनेता
राजनीतिक दल (Political Party)राष्‍ट्रीय जनता दल
राजनीतिक जुड़ाव (Political affiliations)लोकतांत्रिक जनता दल (2022 तक)
धर्म (Religion)हिंदू
नागरिकता (Nationality)भारतीय
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)विवाहित

शरद यादव कौन थे? (Who is Sharad Yadav)

शरद यादव जाने-माने राजनेता और पार्टी जनता दल (यूनाइटेड) के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष रह चुके हैं सात बार लोकसभा के लिए और तीन बार जनता दल से राज्‍यसभा के सदस्‍य के लिए चुने गये।

साल 2003 में गठन के बाद से साल 2016 तक जनता ददल के पहले अध्‍यक्ष रह चुके हैं इसके अलावा कई बार जेल भी गए। पहली बार साल 1974 में जेपी आंदोलन के दौरान आंदोलन में सम्मिलित हुए और आंदोलन समाप्‍त होने के बाद जब आम चुनाव हुए तो उस चुनाव में उन्‍होंने मध्‍यप्रदेश की जबलपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की।

शरद यादव का जन्‍म एवं शुरूआती जीवन

शरद यादव 1 जुलाई 1947 को मध्‍यप्रदेश के होशंगाबाद, बंदाई गांव में एक किसान परिवार में नंद किशोर यादव और सुमित्रा यादव के यहॉं हुआ था।

शरद यादव की शिक्षा (Sharad Yadav Education)

उन्‍होंने अपनी स्‍कूली शिक्षा हायर सेकेंडरी इटारसी के हायर सेकेंडरी स्‍कूल से की। इसके बाद उन्‍होंने रॉबर्टसन कॉलेज जबलपुर से अपनी विज्ञान स्‍नातक की डिग्री प्राप्‍त की। जो जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज से गवर्नमेंट साइंस कॉलेज, जबलपुर और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग की शाखा हैं। शरद जी पेशे से एक कृषक, शिक्षाविद और इंजीनियर थे।

शरद यादव का परिवार (Sharad Yadav Family)

पिता का नाम (Father’s Name)नंद किशोर यादव
मॉं का नाम (Mother’s Name)सुमित्रा यादव
पत्‍नी का नाम (Wife Name)डॉ. रेखा यादव
बेटी का नाम (Daughter’s Name)सुभाषिनी राजा राव
बेटे का नाम (Son’s Name)शांतनु बुंदेला
दामाद का नाम (Son-in-law’s Name)राज कमल राव

शरद यादव का राजनीतिक सफर (Sharad Yadav Political Career)

  • शरद ने अपने पॉलिटिकल करियर की शुरूआत 1971 में छात्र राजनीति से कर दी थी। उन्‍होंने सबसे पहले अपने जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज से छात्र संघ के प्रेसिडेंट का इलेक्‍शन लड़ा हैं। छात्र राजनीति में शरद यादव की पकड़ काफी मजबूत हुआ करती थी।
  • छात्र राजनीति के दौरान ही शरद यादव जेपी आंदोलन का हिस्‍सा बने थे। उस दौरान उन्‍होंने कई क्रांतिकारी आंदोलनों में हिस्‍सा लिया था। इन आंदोलनों में हिस्‍सा लेने की वजह से ही उन्‍हें 1969, 1970, 1972 और 1975 में कई बार जेल भी जाना पड़ा।
  • शरद यादव 90 के दशक में अटल बिहारी सरकार में केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं। वो वर्ष 1989 में वीपी सिंह सरकार में कपड़ा एवं खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्री बने थे।
  • साल 1977 में इसी सीट से एक बार फिर जीतकर सांसद बने।
  • 1986 में राज्‍यसभा के लिए चुने और सांसद बने।
  • साल 1989 में बजाज छोड़कर उत्‍तर प्रदेश चले गए उत्‍तर प्रदेश की बदायूं लोकसभा सीट से चुनाव लड़ें और तीसरी बार संसद चुने गये।
  • शरद यादव ने 90 के दशक के अंत में अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में केंद्रीय मंत्री के रूप में काम किया।
  • वर्ष 1989 में वीपी सिंह सरकार में कपड़ा एवं खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्री बने थे।
  • साल 1991 से लेकर 2014 तक लगातार 23 साल बिहार की मधेपुरा लोकसभा सीट से सांसद रहे।
  • साल 1998 में भारत के पूर्व रेल मंत्री जॉर्ज फर्नांडीस की सहायता से जनता दल यूनाइटेड पार्टी की स्‍थापना की।
  • साल 2001 में केंद्रीय श्रम मंत्रालय में कैबिनेट मिनिस्‍टर बनाए गए।
  • वर्ष 2004 में एक बार फिर राज्‍यसभा के सदस्‍य चुने गए।
  • साल 2014 में मधेपुरा सीट से चुनाव लड़ा और उनके सामने जन अधिकार पार्टी के नेता पप्‍पू यादव थे और पप्‍पू यादव ने शारद को मात देते हुए जीत दर्ज की।

शरद यादव का लोकतांत्रिक जनता दल

लोकतांत्रिक जनता दल भारत की एक राजनीतिक पार्टी हैं। जिसको शरद जी ने मई 2018 में प्रारंभ किया था। जब वह बिहार की भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन के कारण जनता दल से अलग हो गए।

शरद यादव का जीवन परिचय, निधन | Sharad Yadav Biography in Hindi

6 दिसंबर 2012 को बहुजन मुक्ति पार्टी को स्‍थापित किया गया था। लेकिन इसे रद्द कर दिया गया था। और ऑल इंडिया बैकवर्ड (SC, ST, OBC) और माइनॉरिटी कम्‍युनिटी एम्‍प्‍लॉइज फेडरेशन के एक राजनीतिक विंग के रूप में स्‍थापित किया गया था। वी.एल. मतंग बहुजन मुक्ति पार्टी के वर्तमान अध्‍यक्ष हैं।

शरद यादव सोशल मीडिया (Sharad yadav Social Media)

Sharad Yadav Twitter@sharadyadavmp
Sharad Yadav Instagram@Sharad_yadav
Sharad Yadav Facebook@Sharad-Yadav

शरद यादव का निधन (Sharad Yadav Passed Away)

जनता दल पार्टी के पूर्व प्रेसिडेंट और पूर्व कैबिनेट मिनिस्‍टर शरद यादव का 12 जनवरी 2023 को 75 साल की उम्र में निधन हो गया हैं। यह दुखत जानकारी उनकी बेटी शुभाषिनी यादव ने सोशल मीडिया के माध्‍यम से दी हैं। उन्‍होंने ट्वीट करते हुए लिखा “पापा नही रहे” इनके निधन की खबर से पूरे राजनीतिक जगत में शोक का माहौल बना हुआ हैं।

सोशल मीडिया के अनुसार शरद अपने अंतिम वक्‍त में बीमारी से जूंझ रहे थे। उनके दामाद राज कमल राव के अनुसार, उनक ससुर को कार्डियक अरेस्‍ट आया हैं और उन्‍हें तुरंत बेहोशी की हालत में गुरूग्राम के फोर्टिस अस्‍पताल में भर्ती कराया गया।

जहॉं डॉक्‍टर की टीम ने एसीएलएस प्रोटोकॉल के अंतर्गत सीपीआर किया। लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी उन्‍हें बचाया नहीं जा सका और रात 10:19 मिनट पर डॉक्‍टर ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया।

FAQ:

शरद यादव का जन्‍म कब हुआ था?

1 जुलाई 1947

शरद यादव की मृत्‍यु कब हुई?

12 जनवरी 2023

शरद यादव मृत्‍यु के समय कितने साल के थे?

75 साल

शरद यादव का जन्‍म कब और कहॉं हुआ था?

शरद यादव 1 जुलाई 1947 को मध्‍यप्रदेश के होशंगाबाद, बंदाई गांव में एक किसान परिवार में नंद किशोर यादव और सुमित्रा यादव के यहॉं हुआ था।

शरद यादव की बेटी का नाम क्‍या हैं?

सुभाषिनी राज राव

इन्‍हें भी पढ़ें

निष्‍कर्ष

मैं आशा करता हूं की आपको “शरद यादव का जीवन परिचय, निधन (Sharad Yadav Biography in Hindi)” पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो कमेंट करके अपनी राय दे, और इसे अपने दोस्तो और सोशल मीडिया में भी शेयर करे।

Leave a Comment

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now