गौतम अडानी का जीवन परिचय | Gautam Adani Biography in Hindi

गौतम अडानी का जीवन परिचय, बायोग्राफी, ऐतिहास, कुल संपत्ति, नेटवर्थ, बिजनेस, कास्ट, घर, कंपनी (Gautam Adani biography in Hindi, business, net worth 2022, family, house, company)

गौतम अडानी दुनिया के सबसे धनी व्यक्तियों में से एक और भारतीय अरबपति उद्योगपति और परोपकारी गौतम शांतिलाल अडानी अदानी समूह के अध्यक्ष और संस्थापक हैं।

गौतम अडानी द्वारा 1988 में प्रमुख कंपनी अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड के तहत कमोडिटी ट्रेडिंग व्यवसाय के रूप में स्थापित, अडानी समूह एक भारतीय बहुराष्ट्रीय समूह है, जिसका मुख्यालय अहमदाबाद, गुजरात, भारत में है।

अडानी की पत्नी प्रीति अदानी, अदानी फाउंडेशन का नेतृत्व करती है जो सामाजिक सेवाओं के लिए काम करता है।

गौतम अडानी का जीवन परिचय | Gautam Adani Biography in Hindi

Table of Contents

गौतम अडानी का जीवन परिचय (Gautam Adani biography in Hindi)

पूरा नाम (Full Name)गौतम शांतिलाल अडानी
प्रसिद्धि (Famous For)अदानी ग्रुप के संस्थापक
जन्मदिन (Date of Birth)24 जून 1962
उम्र (age)59 साल (2022 में)
स्कूल (School)सेठ चिमनलाल नगीनदास विद्यालय स्कूल, अहमदाबाद, भारत
कॉलेज (collage)गुजरात विश्वविद्यालय भारत
शिक्षा (Education)वाणिज्य में स्नातक शुरू किया (दुतीय वर्ष में छोड़ दिया)
नागरिकता (Nationality)भारतीय
ग्रह नगर (Home Town)अहमदाबाद भारत
धर्म (Religion)जैन धर्म
जाति (Caste)बनिया
राशि (Zodiac Sign)कर्क राशि
लंबाई (Height)5 फीट 6 इंच
वजन (Weight)85 किलोग्राम
पेशा (Profession)अदानी समूह के अध्यक्ष, संस्थापक
शादी की तारीख (Marriage Date)साल 1998
संपत्ति (Net Worth)$90.1 अरब (1/14/2022 के अनुसार) फोर्ब्स
वैवाहिक जीवन (Matrial status)विवाहित

गौतम अडानी कौन हैं? (Who is Gautam Adani)

गौतम अडानी भारत के जाने-माने अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड के संस्थापक और अडानी ग्रुप के फाउंडर हैं, ऐसा कहा जाता है कि यह हमेशा मुकेश अंबानी को टक्कर देते हुए दिखाई देते हैं।

अमूमन भारत के बिजनेस घरानों को खड़ा करने के लिए ना जाने कितनी पीढ़ियां गुजर जाती हैं। तब जाकर एक बिजनेस अंपायर खड़ा होता है। ऐसा ही मुकाम हासिल किया है गौतम अडानी ने ताकि उनके आने वाली पीढ़ी आसानी से जीवन गुजार सकें।

आपको बता दें कि यह भारत में कोल माइनिंग, एक्सपोर्ट इलेक्ट्रिसिटी और ग्रीन एनर्जी, गैस और पेट्रोलियम आदि की व्यवसाय संभालते हैं।

गौतम अडानी का प्रारंभिक जीवन (Gautam Adani Early Life)

गौतम अडानी का पूरा नाम गौतम शांतिलाल अडानी है गौतम अडानी 24 जून 1962 को अहमदाबाद गुजरात के एक मध्यमवर्गीय परिवार में पैदा हुए थे। हालांकि गौतम अडानी का जन्म एक जैन परिवार में हुआ था लेकिन उनका गोत्र अडानी था इसलिए उन्होंने अपने नाम के साथ अडानी जोड़ लिया।

इनके पिता का नाम शांतिलाल अडानी और माता का नाम सांता जैन था। इनके पिता शांतिलाल जैन कपड़े के व्यापारी थे शायद उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं की थी कि उनका बेटा इस मुकाम तक पहुंचेगा लेकिन आज गौतम अडानी दुनिया के सबसे सफल व्यक्तियों में से एक हैं।

गौतम अडानी की शिक्षा (Gautam Adani Education)

गौतम अडानी को उनकी प्रारंभिक शिक्षा सेट चिमनलाल नागिन दास विद्यालय गुजरात से हुई और आगे चलकर इन्होंने गुजरात विश्वविद्यालय में कॉमर्स में ग्रेजुएशन दाखिला ले लिया लेकिन किसी कारणवश वे अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी नहीं कर सके और दूसरे साल में ही पढ़ाई लिखाई छोड़ कर मुंबई चले गए। अपने परिवार की जिम्मेदारियां उठाने के लिए उन्होंने महज 16 साल की उम्र में नौकरी पकड़ ली।

गौतम अडानी का परिवार (Gautam Adani Family)

पिता का नाम (Father Name)शांतिलाल अडानी
माता का नाम (Mother Name)शांता अडानी
भाई का नाम (Brother’s Name)विनोद अडानी
बहन का नाम (Sister’s Name)ज्ञात नहीं
पत्नी का नाम (Wife’s Name)प्रीति अडानी
बेटो के नाम (Children’s Name)करण अडानी और जीत अडानी

गौतम अडानी के कैरियर की शुरुआत (Gautam Adani Career)

  • साल 1980 में आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण गौतम अडानी का परिवार थराद जा बसा।
  • गौतम अडानी की इंग्लिश काफी खराब थी लेकिन उनके दोस्त मलय की इंग्लिश में पकड़ काफी अच्छी थी। आगे चलकर दोनों बिजनेस पार्टनर बने इसके बाद ही शुरू हुआ गौतम अडानी का फर्श से अर्श का सफर।
  • बिजनेस में रुचि रखने वाले गौतम अडानी अपनी पढ़ाई बीच में छोड़कर 1978 में मुंबई आ पहुंचे।
  • जहां उन्होंने महिंद्रा ब्रदर्स की मुंबई वाली शाखा में नौकरी की। हालांकि गौतम अडानी काफी समझदार और मेहनती थे इसलिए उन्होंने काम करते-करते व्यापार के सारे नियम और बाजार के बदलते ट्रेंड के बारे में जानकारी अच्छे से लेनी शुरू कर दी।
  • व्यापार की अच्छी समझ होने के बाद उन्होंने वहां से नौकरी छोड़ दी और आभूषणों के सबसे बड़े ज़वेरी बाजार में अपना खुद का डायमंड ब्रोकरेज खोल लिया।
  • इंपोर्ट एक्सपोर्ट के बिजनेस में अदान ने साल 1981 में अपना सिक्का जमाया जहां वह कामयाब रहे। ऐसा कहा जाता है कि इसमें उनके बड़े भाई मनसुख भाई अदानी ने अहमदाबाद में एक पीवीसी यूनिट खोली थी और उसको मैनेज करने के लिए उन्हें बुलाया था तब से ही उन्होंने इसमें भी अपना पैर पक्का कर लिया।

गौतम अडानी की परोपकारी (दरियादिली)

अदानी ग्रुप के द्वारा 96 में अदानी फाउंडेशन की स्थापना की गई अदानी फाउंडेशन उड़ीसा, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गुजरात महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान राज्य में काम करता है। आपको बता देंगे पूरे भारत में कोरोना महामारी हुई थी तब गौतम अडानी जी ने जनता की सेवा करने के लिए पीएम केयर फंड में 100 करोड़ रुपए का दान किया था।

इसके साथ-साथ अडानी जी ने गुजरात सीएम रिलीफ फंड में ₹50000000 का दान किया था वहीं पर महाराष्ट्र सीएम रिलीफ फंड में ₹10000000 का दान किया था इसके साथ-साथ अदानी ग्रुप ने कोरोना काल के दौरान हर रोज 1500 ऑक्सीजन सिलेंडर सप्लाई करते थे।

अहमदाबाद गुजरात में गौतम अडानी की पत्नी एक स्कूल अदानी विद्या मंदिर चलाती है। जिन बच्चे के माता-पिता की वार्षिक आय ₹100000 से कम है ऐसे बच्चों को स्कूल में शिक्षा दी जाती है।

गौतम अडानी के अनमोल विचार

  • मैं किसी भी राजनीतिक पार्टी से जुड़ा हुआ नहीं हूं और ना ही मुझे राजनीति पसंद है लेकिन फिर भी राजनीतिक पार्टियों में मेरे बहुत से दोस्त हैं।
  • आप यह तो अंतर्मुखी होते हैं या फिर बहुमुखी होते हैं अगर इस हिसाब से देखा जाए तो मैं एक अंतर्मुखी हूं क्योंकि मैं एक सामाजिक व्यक्ति नहीं हूं और ना ही मुझे पार्टियों में जाना अच्छा लगता है।
  • उनका मानना है जो आपका जीवन का लक्ष्य है उस पर अटल रहो देखना एक दिन आप उस के शिखर पर अवश्य दिखाई देंगे।
  • उनका कहना है कि मैं जो भी बात करता हूं सरल तरीके से करता हूं ताकि सामने वाले व्यक्ति को मेरी बातें समझ आए कॉम्पिकेट तरीके से बात करने से कुछ भी समझ नहीं आता।
  • अगर सरल भाषा में कहें तो व्यापार का अर्थ ही जोखिम उठाना होता है जिसमें अनिश्चितता और बेचैनी होती है।
  • अगर आप पैसा कमाते हैं तो आपके पास है दो रास्ते हैं या तो आप एक पैसे को समृद्ध करके बैठे रहिए या फिर उसे निवेश करके तरक्की करते रहिए।
  • गौतम अडानी जी का कहना है कि मैंने पढ़ाई तो पूरी नहीं की लेकिन जीवन के अनुभवों से इतना जरूर जानता हूं कि कुछ हासिल करने के लिए मेहनत करनी पड़ती है।

गौतम अडानी के बिजनेस की कहानी (Gautam Adani Business)

गौतम अडानी हमेशा व्यापार के प्रति आकर्षित थे लेकिन उन्होंने अपने पिता का कपड़ा व्यवसाय नहीं संभाला। गौतम अडानी ने अपना व्यवसाय बढ़ाना जारी रखा और सबसे धनी व्यक्तियों में से एक बन गया आइए जानते हैं उनके बिजनेस के बारे में।

डायमंड ब्रोकरेज फर्म से शुरुआत करना –

जब किशोर थे तब वे 1978 में मुंबई चले गए और महेंद्र ब्रदर्स के लिए हीरा सार्टर के रूप में काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने वहां लगभग 2 से 3 साल तक काम किया और बाद में उन्होंने मुंबई के झावेरी बाजार में अपनी खुद की डायमंड ब्रोकरेज फर्म की स्थापना की।

पॉली विनाइल क्लोराइड (पीवीसी)का आयात –

गौतम के बड़े भाई मनसुख भाई अडाणी ने वर्ष 1981 में अहमदाबाद में प्लास्टिक की इकाई खरीदी और संचालन के प्रबंधन में गौतम को उनके साथ काम करने के लिए आमंत्रित किया उनका उद्यम पॉली विनाइल क्लोराइड आयात के माध्यम से वैश्विक व्यापार के लिए अडानी का प्रवेश द्वार बन गया।

अदानी एक्सपोर्ट की शुरुआत –

बाद में 1985 में गौतम ने लघु उद्योगों के लिए प्राथमिक पॉलीमर आयात करने का व्यवसाय शुरू किया। व्यवसाय के बाद उन्होंने 1988 में अदानी एक्सपोर्ट्स की स्थापना की। कंपनी कृषि और बिजली वस्तुओं से संबंधित है अदानी एक्सपोर्ट्स को अब अदानी एंटरप्राइजेज कहा जाता है।

अदानी पावर की शुरुआत –

अडानी ने बिजली क्षेत्र में भी अपने कारोबार का विस्तार किया और 1996 में उन्होंने अदानी पावर के साथ अडानी समूह का विस्तार किया। अदानी पावर के पास 4620 मेगावाट की क्षमता वाले थर्मल पावर प्लांट है और यह भारत में सबसे बड़ा निजी थर्मल पावर उत्पादक है।

एबॉट पॉइंट पोर्ट की शुरुआत –

अडानी ने 2006 में अपनी बिजली उत्पादन व्यवसाय का भी विस्तार किया और बाद में अदानी समूह ने वर्ष 2009 से 2012 के दौरान आस्ट्रेलिया में एबॉट प्वाइंट पोर्ट और क्रिंसलैंड में कारमाइकल कॉल का अधिग्रहण किया।

गौतम अडानी मुंबई अटैक

गौतम अडानी भी उन लोगों में से एक थे जो 2008 के मुंबई आतंकी हमले के दौरान फस गए थे क्योंकि वह ताज होटल में ठहरे थे बाद में उन्हें सकुशल बचा लिया गया।

गौतम अडानी से जुड़े विवाद (Gautam Adani Controvercy)

  • गौतम अडानी पर 2014 के लोकसभा चुनाव के समय नरेंद्र मोदी का समर्थन करने का आरोप लगा था। उन पर पूरे भारत में रैलियों के लिए यात्रा करने के लिए अदानी समूह के चार्टर्ड विमान प्रदान करके मोदी को विशेष लाभ प्रदान करने का आरोप लगाया गया था।
  • सीएनबीसी के साथ एक साक्षात्कार में आरोप को साफ करते हुए श्री अदानी जी ने कहा कि भाजपा ने अपनी विमान सेवाओं का उपयोग करने के लिए कंपनियों के अपने समूह को बाजार मूल्य का भुगतान किया।
  • 1999 में अंडरवर्ल्ड डॉन अनीस इब्राहिम द्वारा उसका अपहरण रातों-रात सुर्खियों में आ गया था। उन्हें तीन करोड़ की फिरौती के लिए छोड़ा गया था। हालांकि अपहरण के कारणों और अन्य जानकारी की पुष्टि नहीं हो सकी है।
  • 2002 में, दिल्ली पुलिस ने उन्हें एक प्रतिद्वंदी द्वारा जाली मामले में धोखाधड़ी के आरोप में हिरासत में लिया।
  • 1990 के दशक के उत्तरार्ध में कथित चालान प्रक्रिया और money-laundering के आरोप में उन पर जांच चल रही थी उन पर बदमाश व्यापारी केतन पारेख के साथ संभावित मिलीभगत का भी आरोप लगाया गया था।

गौतम अडानी की कुल संपत्ति (Gautam Adani NetWorth)

फोर्ब्स के अनुसार 9 जून 2021 तक गौतम अडानी परिवार की कुल संपत्ति लगभग 78.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर होने का अनुमान हैं।

हालांकि पिछले कुछ हफ्तों में कंपनी को शेयरों में बड़ी गिरावट का सामना करना पड़ा। और यहां तक की कुल संपत्ति गिरकर 62.3 बिलियन डॉलर हो गई।

2022 रिपोर्ट के अनुसार गौतम अडानी की कुल संपत्ति लगभग 9000 10 करोड़ अमेरिकी डॉलर है। मुकेश अंबानी को पकड़ते हुए देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन बन गए हैं।

FAQ:

गौतम अडानी किस चीज का बिजनेस करते हैं?

अदानी ग्रुप कोयला, पावर, रियल स्टेट, एग्रो प्रोडक्ट, ऑयल और गैस एजेंसी फील्ड में काम करते हैं।

गौतम अडानी की कितनी कंपनी है?

अदानी ग्रुप की इस समय तीन कंपनियां हैं अदानी ग्रीन एनर्जी, अदानी टोटल और अदानी ट्रांसमिशन।

गौतम अडानी कौन है?

गौतम अडानी एक भारतीय उद्यमी है जो भारत और एशिया के सबसे अमीर इंसान हैं इसके अलावा दुनिया के सबसे अमीर इंसानो में से एक हैं जो कभी दूसरे तो कभी तीसरे स्थान पर बने हुए हैं।

गौतम अडानी की नेटवर्थ कितनी हैं?

फोर्ब्स के अनुसार गौतम अडानी की कुल संपत्ति यानी कि नेटवर्थ 155.5 बिलियन डॉलर हैं।

इन्हें भी पढ़ें

निष्‍कर्ष

मैं आशा करता हूं की आपको “गौतम अडानी का जीवन परिचय | Gautam Adani biography in Hindi” पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो कमेंट करके अपनी राय दे, और इसे अपने दोस्तो और सोशल मीडिया में भी शेयर करे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment