मनोज मुंतशिर का जीवन परिचय | Manoj Muntashir Biography In Hindi

मनोज मुंतशिर का जीवन परिचय, जीवनी, जन्म, शिक्षा, उम्र, परिवार, शादी, पत्नी, बच्चे, संपत्ति, विवाद (Manoj Muntashir Biography In Hindi, Wiki, Family, Education, Birthday, Career, Age, Marriage, Wife, Girlfriend, Daughter, Latest News, Personal Life, Lifestyle, Photos, Net Worth, Controversy, Pomes, Songs)

मनोज मुंतशिर एक भारतीय गीतकार, कवि और पटकथा लेखक हैं जिन्होंने अब तक तेरी मिट्टी, गलियां, दिल मेरी ना सुने, फिर भी तुमको चाहूंगा, बाहुबली द बिगिनिंग जैसे शीर्षक पर बेहतरीन गीत लिखे हैं।

दोस्तों आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के अमेठी में जन्मे मनोज मुंतशिर का वास्तविक नाम मनोज शुक्ला है और उन्हें बचपन से ही लिखने पढ़ने का बहुत शौक रहा है और उन्होंने अपने काफी कम उम्र से ही कविताएं लिखना शुरू कर दिया था।

अपनी शिक्षा को पूरा करने के बाद वह मात्र ₹700 लेकर अपने सपनों को पंख देने के लिए मुंबई आए थे और उन्होंने अपनी मेहनत और निष्ठा के दम लोगों के दिलों में अपनी पहचान बनाई है।

तो दोस्तों आज के अपने लेख मनोज मुंतशिर का जीवन परिचय (Manoj Muntashir Biography In Hindi) में हम आपको उनके बारे में बहुत सी जानकारियां देंगे तो आइए जानते हैं उनके बारे में-

मनोज मुंतशिर का जीवन परिचय | Manoj Muntashir Biography In Hindi

Table of Contents

मनोज मुंतशिर का जीवन परिचय-

नाम (Name)मनोज मुंतशिर
वास्तविक नाम (Real Name)मनोज शुक्ला
पेशा (Profession)गीतकार, कवि, पटकथा लेखक
जन्म (Date Of Birth)27 फरवरी 1976
जन्म स्थान (Birth Place)गौरीगंज, अमेठी जिला, उत्तर प्रदेश
जाति (Cast)ब्राह्मण
धर्म (Religion)हिंदू
उम्र (Age)47 वर्ष (2023 के अनुसार)
नागरिकता (Nationality)भारतीय
गृह नगर (Home Town)गौरीगंज ,अमेठी, उत्तर प्रदेश
लंबाई (Height)(लगभग) 5 फीट 8 इंच
आंखों का रंग (Eyes Colour)काला
शैक्षिक योग्यता (Education)विज्ञान में स्नातक
शौक (Hobbies)पढ़ना, लिखना ,यात्राएं करना
प्रेमिका (Girlfriend)नीलम मुंतशिर
वैवाहिक स्थिति (Marrital Status)विवाहित
कुल संपत्ति (Net Worth)$3 मिलीयन

मनोज मुंतशिर कौन हैं? (Who Is Manoj Muntashir?)

मनोज मुंतशिर एक भारतीय गीतकार कवि और पटकथा लेखक हैं एवं उनका वास्तविक नाम मनोज शुक्ला है और उन्होंने गलियां, तेरे संग यारा और तेरी मिट्टी जैसे सुपरहिट बॉलीवुड गानों को लिखा है।

मनोज मुंतशिर का जन्म 27 फरवरी 1976 को उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के गौरीगंज में एक मध्यमवर्गीय हिंदू ब्राम्हण परिवार में हुआ था।

मनोज मुंतशिर के पिताजी शिव प्रताप शुक्ला एक सामान्य किसान थे और उनकी माताजी एक स्कूल शिक्षिका और एक कुशल ग्रहणी थी इसके साथ ही मनोज अपने माता पिता की एकलौती संतान है।

मनोज मुंतशिर की शिक्षा (Manoj Muntashir Education)

लेखक मनोज मुंतशिर ने अपनी स्कूली शिक्षा को गौरीगंज के एक कान्वेंट स्कूल और अमेठी के एचएएल स्कूल कोरबा से प्राप्त किया है।

अपनी स्कूली शिक्षा को प्राप्त करने के बाद उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में दाखिला लिया और वहां से विज्ञान में स्नातक की शिक्षा को ग्रहण किया।

इसके साथ ही उन्हें बचपन से ही कविताएं, शायरियां आदि लिखने का बहुत शौक था और उनका मानना था कि बिना उर्दू के कविताएं नहीं लिखी जा सकती इसलिए उन्होंने पहले उर्दू भाषा का प्रशिक्षण भी प्राप्त किया है।

मनोज मुंतशिर का परिवार (Manoj Muntashir Family)

पिता का नाम (Father’s Name)शिव प्रताप शुक्ला
माता का नाम (Mother’s Name)ज्ञात नहीं
बहन का नाम (Sister’s Name)कोई नहीं
भाई का नाम (Brother’s Name)कोई नहीं
पत्नी का नाम (Wife’s Name)नीलम मुंतशिर
बेटी का नाम (Daughter’s Name)ज्ञात नहीं
बेटे का नाम (Son’s Name)आरू मुंतशिर

मनोज मुंतशिर की गर्लफ्रेंड, शादी, पत्नी, बच्चे (Manoj Muntashir Girlfriend, Wife, Marriage, Children)

मनोज मुंतशिर की प्रेम कहानी (Manoj Muntashir Love Story)

मनोज मुंतशिर का विवाह नीलम मुंतशिर के साथ हुआ है और वह भी एक लेखक हैं एवं उनके एक बेटा है जिसका नाम आरू है एवं उनकी बेटी के बारे में कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई है।

हालांकि दोस्तों उनकी नीलम जी से शादी से पहले भी उनके परिवार ने उनकी शादी के लिए एक लड़की को चुना था और उनसे उनका विवाह भी होने वाला था वह सारी तैयारियां भी पूरी हो गई थी।

परंतु 2 महीने के प्रेमा लाभ के बाद शादी के कुछ दिन पहले ही उनकी शादी टूट गई क्योंकि शादी से कुछ दिन पहले उनका भाई उनसे मिलने के लिए उनके यहां आया था।

उस लड़की के भाई ने उनके पास आकर बिना किसी हिचकिचाहट के पूछा कि आगे क्या करोगे तो मनोज ने जवाब दिया कि मैं गीत लिखूंगा

👉यह भी पढ़ें – ज्योति मौर्य का जीवन परिचय

इस पर उस लड़की के भाई ने कहा कि यह तो ठीक है लेकिन वह अपने करियर में आगे क्या करेंगे तो उन्होंने जवाब दिया मैं जिंदगी भर गाने ही लिखूंगा और इसी में अपना करियर बनाऊंगा

इतना सुनने के बाद उस लड़की का भाई घर वापस लौट गया और कुछ समय बाद उनकी शादी टूटने की खबर उन्हें प्राप्त हो गई और फिर इसके बाद उनका विवाह नीलम जी के साथ हुआ और अब वह एक सुखी दांपत्य जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

मनोज मुंतशिर ने अपना नाम मनोज शुक्ला से मनोज मुंतशिर क्यों बदला?

मनोज मुंतशिर जी ने अपने नाम बदलने के बारे में एक साक्षात्कार में बताया था कि एक बार वर्ष 1977 की सर्द रात में वह चाय की तलाश में अपने घर के पास वाली टपरी पर जाकर बैठे हुए थे।

उस समय उस टपरी वाले की दुकान में रेडियो बज रहा था और उसी रेडियो पर उन्होंने पहली बार मुंतशिर शब्द सुना था जो कि उन्हें बहुत अच्छा लगा।

उन्हें इस शब्द से इतना लगाव महसूस हुआ कि चाय की आखिरी घूंट पीने तक उन्होंने अपना नाम मनोज शुक्ला से बदलकर मनोज मुंतशिर रखने का फैसला कर लिया परंतु समस्या यह थी कि वह अपने पिता को इसके लिए कैसे बताएं?

इसके बाद उन्होंने रात भर सोच और फिर उन्हें एक तरकीब सूझी जिसके अनुसार उन्होंने घर की नेम प्लेट पर मनोज मुंतशिर लिखवा दिया जिसे देख कर उनके पिता को काफी गुस्सा आया और उन्होंने सोचा कि मनोज ने अपना आधार में बदल लिया है?

जिसके बाद मनोज जी ने अपने पिता को आश्वासन देते हुए बताया कि उन्होंने अपना धर्म परिवर्तन नहीं किया है और यह केवल उन्होंने अपनी खुशी से किया है क्योंकि उन्हें इस शब्द से काफी लगाव महसूस हुआ था।

मनोज मुंतशिर का करियर (Manoj Muntashir Career, Latest News, Pomes, Songs)

साथियों जैसा कि हमने जाना मनोज जी को अपने स्कूल के दिनों से ही कविताएं लिखने का शौक चढ़ा गया था और वह अपने दोस्तों को भी मुशायरे में ले जाया करते थे

जहां वह अपनी कविताएं सुनाया करते थे और इसी प्रकार उन्होंने अपने ग्रेजुएशन को खत्म कर वर्ष 1999 में काम की तलाश में सिर्फ ₹700 लेकर मुंबई के लिए निकल गए थे।

मुंबई आने के बाद उनकी मुलाकात भजन सम्राट अनूप जलोटा से हुई जिन्होंने उन्हें एक भजन लिखने के लिए कहा हालांकि उन्होंने पहले कभी भजन नहीं लिखा था फिर भी पैसों के लिए वह तैयार हो गए और उसके बदले में उन्हें ₹3000 का चेक प्राप्त हुआ जो कि मनोज पहली कमाई थी।

इसके बाद वर्ष 2004 में उन्हें फिल्म रंगरसिया के गाने लिखने का मौका प्राप्त हुआ लेकिन किन्हीं वजहों से यह फिल्म में करीब 10 वर्ष बाद 2014 में रिलीज हुई।

इसलिए बात वर्ष 2005 में उन्हें अमिताभ बच्चन ने उन्हें भारतीय टीवी श्रृंखला कौन बनेगा करोड़पति के लिए लिखने का मौका दिया जो कि सोनी टीवी पर प्रसारित होता है।

इस रहे थे तो उन्होंने रियलिटी टेलीविजन कार्यक्रम हो जैसे इंडियन आईडल जूनियर, झलक दिखलाजा और इंडियन गोट टैलेंट्स आदि टीवी शोस के लिए पटकथा लिखी है।

इसके साथ ही वर्ष 2005 में ही उन्होंने एक गीतकार के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी और आपका को वह है एक विलन, बाहुबली द: बिगिनिंग, जय गंगाजल, रुस्तम, एम एस धोनी द : अनटोल्ड स्टोरी, हाफ गर्लफ्रेंड और बाहुबली 2 द: कंक्लुजन जैसी फिल्मों के शानदार गीतों को लिख चुके हैं।

मनोज मुंतशिर से जुड़े विवाद (Manoj Muntashir Controversy)

  • वर्ष 2020 में वह एक बार सुर्खियों में तब आए जब वर्ष 2020 में उनके द्वारा लिखे गए गाने तेरी मिट्टी और गली ब्वॉय के बीच गली ब्वॉय को अवार्ड के लिए नामांकित किया गया।
  • जिसके बाद उन्होंने नाराज होकर सभी अवार्ड शो का बहिष्कार करने का फैसला किया और कहा कि- वह अपनी आखिरी सांस तक किसी भी अवॉर्ड शो में शामिल नहीं होंगे क्योंकि अगर वह इस तरह के अवार्ड शो की परवाह करते रहे तो यह उनकी कला का बहुत बड़ा अपमान होगा।

मनोज मुंतशिर और फिल्म आदिपुरुष विवाद (Manoj Muntashir And Aadipurush Movie Controversy)

अपनी कड़ी मेहनत से लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाने वाले मनोज मुंतशिर जून 2023 में बॉलीवुड फिल्म आदि पुरुष की रिलीज के बाद

किरदारों द्वारा कहे गए कुछ वाक्यों को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी भारी आलोचना हुई है और नेटिजेंस ने उन्हें फिल्मे ‘मरेगा बेटा’, ‘बुआ का बगीचा है क्या?’ और ‘जलेगी तेरे बाप की’ जैसे विवादित पंक्तियों के लिए ट्रोल किया।

मनोज मुंतशिर की कुल संपत्ति (Manoj Muntashir Net Worth)

सोशल मीडिया में उपलब्ध जानकारी के अनुसार वर्ष 2023 में मनोज मुंतशिर की कुल संपत्ति $3 मिलियन है जो भारतीय रुपयों में ₹25 करोड़ होती है।

कुल संपत्ति (Net Worth – 2023)$3 मिलीयन
कुल संपत्ति भारतीय रुपयों में (Net Worth In Indian Rupees)₹25 करोड़
वार्षिक आय (Yearly Income)ज्ञात नहीं
मासिक आय (Monthly Income)ज्ञात नहीं
आय के स्रोत (Income Source)लेखन, आदि

मनोज मुंतशिर से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण रोचक तथ्य-

  • मनोज मुंतशिर का जन्म और पालन-पोषण उत्तर प्रदेश के अमेठी में एक मध्यमवर्गीय हिंदू ब्राह्मण परिवार में हुआ है।
  • उन्हें बचपन से ही पढ़ने लिखने का बहुत शौक रहा है और वह नई नई कविताए लिखना बहुत पसंद है।
  • उन्होंने अपना शुरुआती जीवन काफी सीमित संसाधनों के साथ गुजारा है।
  • अपनी शिक्षा को पूरा करने के बाद वह केवल ₹700 लेकर मुंबई आए थे।
  • मैं मई में उनकी मुलाकात सर्वप्रथम अनूप जलोटा से हुई जिन्होंने उन्हें एक भजन लिखने के लिए कहा था।
  • वर्ष 2005 में अमिताभ बच्चन ने उन्हें टीवी श्रृंखला कौन बनेगा करोड़पति के लिए लिखने का मौका दिया था।
  • वर्ष 2001 में कश्मीर यात्रा के दौरान डल झील के किनारे बैठ कर उन्होंने गलियां गीत लिखा था।
  • उनका पहला काम मुंबई में नहीं बल्कि इलाहाबाद में ऑल इंडिया रेडियो के लिए हुआ था।
  • वर्ष 2018 में उन्होंने अपनी पहली किताब मेरी फितरत है मस्ताना लिखी जिसे वाणी प्रकाशन ने प्रकाशित किया था।

FAQ:

मनोज मुंतशिर का जन्म कब और कहां हुआ?

मनोज मुंतशिर का जन्म 27 फरवरी 1976 को उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के गौरीगंज में हुआ था।

मनोज मुंतशिर की उम्र कितनी है?

वर्ष 2023 के अनुसार मनोज मंत्री साल की उम्र 47 वर्ष है।

मनोज मुंतशिर का धर्म क्या है?

मनोज मुंतशिर का जन्म उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के गौरीगंज के एक हिंदू ब्राह्मण परिवार में 27 फरवरी 1976 को हुआ था।

मनोज मुंतशिर की पत्नी कौन है?

मनोज मुंतशिर का विवाह है नीलम मुंतशिर जी के साथ हुआ है जो कि एक लेखक हैं।

मनोज मुंतशिर के पिता का नाम क्या है?

मनोज मुंतशिर के पिता का नाम शिव कुमार शुक्ला है जो कि एक साधारण किसान थे।

इन्हें भी पढ़ें :-

निष्‍कर्ष

दोस्‍तों मैं आशा करता हॅूं आपको “मनोज मुंतशिर का जीवन परिचय (Manoj Muntashir Biography In Hindi)” वाला ब्‍लॉग पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये ब्‍लॉग पसंद आया हो तो अपने दोस्‍तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर जरूर करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment