उमेश पाल का जीवन परिचय | Umesh Pal Biography In Hindi

उमेश पाल का जीवन परिचय, जीवनी, जन्म, शिक्षा, परिवार, पत्नी, विवाद, हत्या (Umesh Pal Biography In Hindi, Wiki, Family, Education, Birthday, Career, Marriage, Wife, Children’s, Controversy, Age, Raju Pal Mudder, Cast, Umesh Pal Mudder, Net Worth)

दोस्तों आप सब न्यूज़ में पिछले कई दिनों से उमेश पाल, राजू पाल, अतीक अहमद जैसे विभिन्न नामों को लगातार सुन रहे होंगे परंतु क्या आपने यह जानने की कोशिश की है कि जैसा बारिश शुरू कैसे हुआ?

दोस्तों आप सब को बता दें कि इस दुश्मनी की शुरुआत आज से लगभग 18 वर्ष पहले शुरू हुई थी जब अतीक अहमद द्वारा 25 जनवरी 2005 को उमेश पाल के दोस्त राजू पाल की दिनदहाड़े हत्या कर दी जाती है जो कि एक मामले की सुनवाई में शामिल होकर वापस लौट रहे थे।

उस हत्याकांड के चश्मदीद गवाह उमेश पाल थे जो उस वक्त उनके साथ थे तभी से यह सिलसिला शुरू हुआ और अतीक अहमद द्वारा कई बार उमेश पाल को पीछे हटने के लिए कहा गया परंतु वह नहीं माने।

तो दोस्तों आज के अपने लेख उमेश पाल का जीवन परिचय (Umesh Pal Biography In Hindi) में हम आपको उनकी कहानी बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं उनके बारे में-

उमेश पाल का जीवन परिचय | Umesh Pal Biography In Hindi

उमेश पाल का जीवन परिचय

नाम (Name)उमेश पाल
जन्म (Date Of Birth)ज्ञात नहीं
उम्र (Age)43 वर्ष मृत्यु के समय
राशि (Zodiac Sine)ज्ञात नहीं
राष्ट्रीयता (Nationality)भारतीय
जन्म स्थान (Birth Place)प्रयागराज
गृह नगर (Home Town)प्रयागराज
शैक्षणिक योग्यता (Education)एलएलबी
वैवाहिक स्थिति (Marrital Status)विवाहित
शौक (Hobbies)ज्ञात नहीं
जाति (Cast)ज्ञात नहीं
धर्म (Religion)हिंदू
पेशा (Profession)वकील
मृत्यु (Death)24 फरवरी 2023
मृत्यु का कारण (Death Cause)हत्या
मृत्यु का स्थान (Death Place)प्रयागराज
WhatsApp GroupJoin Now
Telegram GroupJoin Now

उमेश पाल कौन है? (Who Is Umesh Pal?)

उमेश पाल पेशे से एक वकील थे और इसके साथ ही वह आज से लगभग 18 साल पहले हुए बहुजन समाजवादी पार्टी के विधायक राजू पाल (जो कि उनके दोस्त थे) की हत्याकांड के चश्मदीद गवाह थे।

उमेश पाल का जन्म एवं शुरुआती जीवन-

उमेश पाल जो कि एक वकील थे उनका जन्म उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक सामान्य हिंदू परिवार में हुआ था, उनकी माता जी का नाम शांति पाल है।

उमेश पाल की शिक्षा (Umesh Pal Education)

उमेश पाल ने अन्य लोगों की तरह ही अपना बचपन सामान्य तरीके से बताते हुए अपने गृह नगर से ही अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी की और इसके बाद उन्होंने आगे की शिक्षा के लिए कानून विषय को चुना और उन्होंने एलएलबी की शिक्षा प्राप्त की।

उमेश पाल का परिवार (Umesh Pal Family)

पिता का नाम (Father’s Name)ज्ञात नहीं
माता का नाम (Mother’s Name)शांति पाल
बहन का नाम (Sister’s Name)ज्ञात नहीं
भाई का नाम (Brother’s Name)ज्ञात नहीं
पत्नी का नाम (Wife’s Name)जया पाल
बेटे का नाम (Son’s Name)आदित्य और आरव पाल
बेटी का नाम (Daughter’s Name)दिव्या और काव्या पाल

उमेश पाल की पत्नी, बच्चे (Umesh Pal Wife’ Name, Children’s)

उमेश पाल का विवाह जया पाल जी के साथ हुआ था और उनके चार बच्चे हैं जिनमें से दो बेटे आदित्य और आरव एवं दो बेटियां दिव्या और काव्या है।

उमेश पाल और अतीक अहमद के बीच विवाद की शुरुआत (Umesh Pal Controversy)

दोस्तों इस कहानी की शुरुआत 19 साल पहले वर्ष 2004 में शुरू हुई थी तब राजू पाल ने पूर्व सांसद अतीक अहमद की सत्ता को चुनौती दी थी और उनके भाई अशरफ को चुनाव में हराया था।

लेकिन इसकी ऐसी अदावत छड़ी की राजू पाल को अपनी जान गवा कर उसकी कीमत चुकानी पड़ी और 25 जनवरी 2005 को धूमनगंज में चारों तरफ से घेर कर राजू पाल को गोलियों से छलनी कर दिया गया।

इस हमले में उनके अलावा दो अन्य लोग संदीप यादव और देवीलाल भी मारे गए थे पुलिस सीबीसीआईडी और फिर आखिर में सीबीआई ने इस मामले की जांच की और पूर्व सांसद अतीक अहमद उनके भाई अशरफ समेत 10 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया।

उमेश पाल की हत्या, मृत्यु (Umesh Pal Murder, Death)

इस हादसे में राजू पाल की तो हत्या हो गई परंतु उनके दोस्त उमेश पाल बच गए और उन्होंने अपने दोस्त के कातिलों को सजा दिलवाने का निश्चय किया।

परंतु यह राह इतनी आसान नहीं थी क्योंकि अतीक अहमद के आतंक की वजह से कोई भी उसके खिलाफ गवाही देने के लिए तैयार नहीं होता था और जो लोग भी तैयार हुए थे उन्हें अतीक अहमद ने किसी न किसी प्रकार से पीछे धकेल दिया।

परंतु इसके बाद भी पूर्व विधायक राजू पाल की हत्या में उमेश एकमात्र ऐसे दवाएं बचे थे जो अकेले ही अति के खिलाफ मोर्चा संभाले हुए थे।

उमेश पाल का जीवन परिचय | Umesh Pal Biography In Hindi

उनकी पत्नी के अनुसार अतीक ने उमेश पाल को गवाही से पीछे हटाने के लिए वर्ष 2006 में उमेश पाल का अपहरण कर लिया और उन्हें जबरन अपना बयान बदलने के लिए मजबूर किया।

परंतु इतना सब कुछ होने के बाद भी उमेश पाल ने हार नहीं मानी और वह लगातार हाई कोर्ट सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की पैरवी करते रहे।

इसी बीच राजू पाल की पत्नी पूजा पाल ने भी सत्ता बदली लेकिन उमेश पाल नहीं डरे और उन्होंने वह 2005 से लेकर 2023 तक अतीक अहमद से मोर्चा ले रहे थे परंतु 18 वर्ष बाद 24 फरवरी 2023 को राजू पाल की तरह ही उनकी भी सरेआम गोलियों से हत्या कर दी गई। इस प्रकार उमेश ने मरते दम तक राजू पाल से अपनी दोस्ती निभाई

उमेश पाल से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण रोचक तथ्य-

  • उमेश पाल का जन्म उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में हुआ था।
  • उन्होंने एलएलबी की शिक्षा ग्रहण की थी और वह एक वकील थे।
  • वर्ष 2005 में उनके सामने ही उनकी दोस्त की हत्या कर दी गई थी।
  • उन्होंने अपने दोस्त को न्याय दिलाने के लिए लगभग 18 वर्षों तक लड़ाई लड़ी।
  • 24 फरवरी 2023 को उनकी सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई।
  • उन्हें राजू पाल के से पीछे हटने के लिए कई बार डराया धमकाया गया था।
  • उमेश पाल को बचाते हुए उनके सुरक्षाकर्मी की भी मृत्यु हो गई थी।
  • उनकी हत्या का यह पूरा मामला पास की एक दुकान के सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गया।
  • उमेश पाल की पत्नी के अनुसार राजू पाल और उमेश बचपन के दोस्त थे।

FAQ:

उमेश पाल का हत्यारा कौन है?

उमेश पाल अपहरण के मामले में अतीक को इलाहाबाद की एमपी लॉ कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनाई और दूसरी बार फिर से अधिक को उमेश पाल हत्या मामले में पेशी के लिए प्रयागराज लाया गया है।

उमेश पाल के कितने बच्चे हैं?

उमेश पाल का विवाह जया पाल जी के साथ हुआ था और उनके चार बच्चे हैं जिनमें से दो बेटे आदित्य और आरव एवं दो बेटियां दिव्या और काव्या है।

उमेश पाल मामला क्या है?

उमेश पाल वर्ष 2005 में प्रयागराज में बहुजन समाज पार्टी के विधायक राजू पाल की हत्या का एक प्रमुख चश्मदीद गवाह था।

प्रयागराज में उमेश पाल कौन थे?

भाजपा विधायक राजू पाल की हत्या के मुख्य गवाह उमेश पाल और उनके दो पुलिस सुरक्षा कर्मियों की इस वर्ष 24 फरवरी को धूमनगंज क्षेत्र में उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

इन्हें भी पढ़ें :-

निष्‍कर्ष

मैं आशा करता हूं की आपको “उमेश पाल का जीवन परिचय | Umesh Pal Biography In Hindi” पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो कमेंट करके अपनी राय दे, और इसे अपने दोस्तो और सोशल मीडिया में भी शेयर करे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment